जौ का पानी स्टोन, हार्ट डिजीज और यूटीआई में फायदेमंद, 3 कप से अधिक न लें
रिसर्च में भी साबित हो चुका है कि जौ का पानी शरीर को कई तरह से फायदा पहुंचाता है।
NationalView.in | Last Modified – May 25, 2018

NationalView.in

Shamshud Dhua

जौ का पानी बैड कोलेस्ट्रॉल को कम कर हृदय रोगों से बचाता है।
यूटिलिटी डेस्क .अमरीकन जर्नल ऑफ क्लीनिकल न्यूट्रीशन के मुताबिक जौ का पानी शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल को कम कर हृदय रोगों से बचाता है। जौ में विटामिन बी-कॉम्प्लेक्स, आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, मैगनीज, सेलेनियम, जिंक, कॉपर, प्रोटीन, अमीनो एसिड, डायट्री फाइबर्स और कई तरह के एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। यह शरीर के लिए कई तरह से फायदा पहुंचाता है। आयुर्वेद विशेषज्ञ डॉ. सीताराम गुप्ता से जानते हैं फायदे…
5 प्वाइंट्स: क्यों पीएं
o डायबिटीज के मरीज भी जौ का पानी ले सकते हैं क्योंकि यह शुगर कंट्रोल करता है। इसमें मौजूद एंटीआॅक्सीडेंट्स से डायबिटीज में भी सुधार होता है।
o फायबर की मात्रा अधिक होने के कारण यह पेट के लिए खास फायदेमंद है। रोजाना जौ का पानी पीने से शरीर से विषैले तत्व बाहर निकलते हैं।
o बच्चों और महिलाओं में यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन होने और किडनी में स्टोन की समस्या में भी जौ का पानी पीने की सलाह दी जाती है।
o कब्ज, बवासीर और दस्त होने पर इसे पी सकते हैं। यह शरीर में होने वाले पोषक तत्वों और पानी की कमी को पूरा करता है।
o यह गर्भावस्था में होने वाली पैरों और टखनों की सूजन को दूर करने के साथ इस दौरान होने वाली जेस्टेशनल डायबिटीज से भी बचाता है।

कैसे बनाएं जौ का पानी
एक कप जौ को पानी धो लें और फिर इसे 3 कप पानी में भिगो दें। 3 घंटे बाद इसे छान लें और 3-4 कप पानी लें इसमें भीगे हुए जौ डालकर 30 मिनट के लिए उबालें। इस पानी को छानकर ठंडा करके पीएं।

कितना और कैसे पीएं
रोजाना 2-3 कप जौ का पानी पी सकते हैं। स्वाद पसंद न आने पर इसमें नींबू का रस और शहद मिला सकते हैं।

कब पहुंचाता नुकसान
इसे अधिक मात्रा में लेने से नुकसान हो सकता है। एक दिन में 2-3 कप जौ के पानी से अधिक न पीएं। तय मात्रा से अधिक लेने से रैशेज, एलर्जी या क्रॉनिक कब्ज हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *