2 लड़कियों समेत 21 अभ्यर्थी बैठे आमरण अनशन पर, आरपीएससी नहीं कर रही सुनवाई ,

2 लड़कियों समेत 21 अभ्यर्थी बैठे आमरण अनशन पर,
आरपीएससी नहीं कर रही सुनवाई ,

www.nationalview.in
राजस्थान, अजमेर. राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा वरिष्ठ अध्यापक ग्रेड सेकंड 2016 के चयनित शिक्षकों की मांगों पर सुनवाई नहीं करने से खफा 2 लड़कियों समेत 21 अभ्यर्थियों ने मंगलवार से आमरण अनशन शुरू कर दिया। ये चयनित शिक्षक आयोग से शीघ्र से शीघ्र नियुक्ति अनुशंसा भेजने की मांग कर रहे हैं।

आयोग के पास धरना स्थल पर आज अभ्यर्थी किरण शर्मा, सविता दीक्षित, शिवराम ,पवन कुमार, सुखराम ,गुरुदीप बलाई ,राकेश श्रृंगी, कैलाश , हरकेश मीणा, अशोक मीणा ,बृजेश बलाई ,धर्मवीर बेरवा, महावीर कुमार ,शिवराज मीणा, द्वारिका लाल ,अशफाक मंसूरी और मूलाराम ने आमरण अनशन शुरु कर दिया। धरना स्थल पर अभ्यर्थियों का माला पहनाकर स्वागत किया गया। इससे पूर्व अभ्यर्थियों ने धरना स्थल पर हवन कुंड सजाकर यज्ञ में आहूतियां दी और राज्य सरकार तथा आयोग प्रबंधन की सद्बुद्धि के लिए प्रार्थना की।

सरकारी स्कूलों को मिल सकते हैं 7 हजार से ज्यादा शिक्षक

अभ्यर्थियों का कहना है कि आयोग इस प्रकरण में जल्दी करें तो प्रदेश के सरकारी स्कूलों को 7000 से अधिक शिक्षक मिल सकते हैं , लेकिन आयोग टालमटोल का रवैया अपना रहा है । इससे अभ्यर्थियों को मानसिक प्रताड़ना का शिकार होना पड़ रहा है। ये अभ्यर्थी 25 जुलाई से यहां पर धरना दे रहे हैं। इस धरने में अजमेर के अलावा जयपुर ,जोधपुर ,बीकानेर ,उदयपुर, सवाई माधोपुर ,कोटा ,अलवर, सीकर ,झुंझुनू ,भरतपुर , टोंक, करौली , दौसा, सिरोही, पाली, बांसवाड़ा ,डूंगरपुर समेत विभिन्न जिलों के अभ्यर्थी शामिल हैं। बड़ी संख्या में महिला अभ्यर्थी भी अपनी नियुक्ति अनुशंसा की मांग को लेकर धरने पर बैठी हैं।
Editor. :- Shamshud duha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *